पहले मेरी माँ चुदी फिर मैं चुदी कैसे जानिए

loading...

दोस्तों मेरा नाम कविता है। मैं अठारह साल की हूँ। पापा के दोस्त जो की पापा के उम्र से काफी काम था और मम्मी से शायद 7 साल छोटा होगा। और मेरे से 10 साल बड़ा, वो बड़े ही हेल्पफुल इंसान हैं। धीरे धीरे मेरी माँ का दिल उनपर आ गया। ये बात पापा को नहीं पता था पर मुझे पता था। जब पापा घर पर नहीं होते तो वो उनसे बातें करती। अपनी सारी बातें बताती। वो दोनों एक दूसरे का केयर करते थे पर शायद दोनों के बिच सेक्स सम्बन्ध कभी नहीं रहा था। पर वो दोनों एक दूसरे को चाहते थे। पर उनका व्यवहार ऐसा था की कोई भी औरत या लड़की उनपर मेहरवान हो सकती थी। और मैं भी उनको पसंद करने लगी.

loading...

उनका मेरे घर से काफी अच्छा सम्बन्ध हो गया था। वो हमेशा नहीं आते थे घर पर जब पापा बुलाते तभी आते तो पापा को भी कभी शक नहीं होता था। और होना भी नहीं चाहिए क्यों की ऐसा कभी उन्होंने कुछ किया ही नहीं बस एक परिवार की तरह रहते थे अब कोई किसी को चाहे तो इसका क्या हो सकता है।

मेरे पापा १ महीने के लिए कंपनी के तरफ से दुबई जाने वाले थे। हमलोगों को लग रहा था कैसे हमलोग एक महीने अलग रहेंगे आपको तो पता है किसी शहर में एक माँ बेटी को अकेले रहना कितना खतरनाक हो सकता है। तो पापा के दोस्त बोले मैं हूँ कोई दिक्कत नहीं होगी। पापा को लगा चलो कोई तो है जो मेरे एब्सेंट में मेरे परिवार का देखभाल करेगा। तो मम्मी बोली कोई बात नहीं मैं सही से रह लुंगी जब उनकी जरुरत होगी ऐसा नहीं लगता है की उनकी जरुरत पड़ेगी। इस बात से पापा को लगा की मेरी पत्नी कितनी अच्छी है पराये मर्द को घर नहीं बुलाना चाहती है।

जिस दिन पापा की फ्लाइट थी। उसके एक दिन पहले सारा सामान पैक हो गया। हमलोग को समझा दिए की कैसे क्या करना है और कैसे रहना है। फिर रात को खाना खाकर उन्हों मुझे जल्दी सोने भेज दिया। मुझे नींद नहीं आ रही थी लग रहा था पापा अब एक महिने के लिए हमलोगों से दूर हो जायेंगे। तभी मम्मी पापा के कमरे से आह आह की आवाज आई मैं अपने कमरे से बाहर निकलकर देखा तो खिड़की खुली थी दरवाजा बंद था और लाइट जल रही थी। पापा मम्मी को चोद रहे थे पर मम्मी बार बार यही कह रही थी इसीलिए नहीं देती हूँ।

आप खुश कर ही नहीं पाते हो। पता नहीं इतना छोटा कैसे हो गया है तुम्हारा लौड़ा और अब तो टाइट भी नहीं होता है। पर पापा कोशिश कर रहे थे पर माँ गुस्से में थी। पापा चोद रहे थे चूचियां दबा रहे थे पर मेरी माँ ऐसी लग रही थी जैसे जान ही नहीं है उनमे वो सिर्फ लेटी हुई थीं नंग धडंग। आखिर कार पापा निढाल हो गए और वो तुरंत ही मम्मी के ऊपर से निचे होकर सो गए मम्मी उठकर कपडे पहनी पानी पि और लाइट जला कर सो गई। मुझे उस दिन पता चला था की दोनों की सेक्स लाइफ ठीक नहीं चल रही है।

दूसरे दिन पापा की फ्लाइट 12 बजे रात को थी। मैं घर पर थी उनको छोड़ने पापा के दोस्त और मेरी माँ गई थी। वापस वो लोग करीब १ बजे रात को आये। में दरवाजा का चाभी माँ के पास था तो वो मुझे नहीं उठाई और अंदर आ गई। मेरी नींद खुल गई थी पर उठी नहीं पापा के दोस्त भी माँ के साथ ही था। मुझे लगा की ये इस समय क्यों आया है पापा तो चले गए पर पापा के दोस्त आ गए और मैं देखि की वो सीधे मम्मी के बैडरूम में चले गए। मम्मी जल्दी जल्दी अपने कपडे खोली और एक नाइटी पहन ली और दरवाजा बंद कर दी। मैं तुरंत ही कमरे से बाहर आई और वहीँ खिड़की के पास से दखने लगी।

मम्मी और अंकल दोनों एक दूसरे को किश कर रहे थे। अंकल मम्मी की चूचियां दबा रहे थे और फिर नाइटी उतार दिया उन्होंने फिर मम्मी को पलंग पर पटक दिया और मम्मी की चूचियां पिने लगे। और फिर उनके होठ को चूसने लगे। फिर मम्मी की चूत चाट रहे थे मम्मी काफी ज्यादा कामुक हो गई थी वो खुद ही अपने हॉट को अपने दांतों से दबा रही थी बार बार वो अपना जीभ निकलती और होठ को गीला करती। ये सब देखकर मेरी चूत भी गरम होने लगी थी। अंकल मम्मी को पलट दिया और गांड चाटने लगे मम्मी कभी हँसती कभी मुस्कराती कभी अंगड़ाइयां लेती। कभी अंकल को प्यार करती कभी चूमती कभी अपने गले से लगा लेती। दोस्तों ये सब देख कर मुझसे रहा नहीं गया और मैं खुद ही अपने चूचियों को दबाने लगी और चूत सहलाने लगी।

उसके बाद अंकल ने मम्मी को चोदना शुरू किया। वो मम्मी के दोनों पैरों को अलग अलग किया और चूत पर लंड सेट कर के जोर से धुसा दिया मम्मी के मुँह से आह आह आह निकलने लगी। मम्मी बोली इससे कहते हैं लौड़ा और इसे कहते हैं चुदाई। पर क्या कारण मेरे किस्मत में भगवान् ने क्या लिखा है। तो पापा कहने लगे चिंता करने की कोई बात नहीं मैं हूँ आपको खुश करने के लिए। मम्मी बोली हां वो तो है पर मैं तो पाने किस्मत पर रो रही हूँ।

और मम्मी अंकल के गांड को पकड़ कर अपने चूत में जोर जोर से सटा रही थी और अंकल धक्के दे रहे थे। अंकल माँ के चूचियों को दबा रहे थे खेल रहे थे कभी गाल पर चूमते कारबी गर्दन पर कभी होठ पर कभी चूचियों पर ये सब देखकर मैं और बैचेन होने लगी.

दोनों फुल स्पीड में आ गए और कमरे में आ आहे ओह्ह को आवाज आ रही थी पलंग की आवाज कर रहा था और दोनों फुल स्पीड में लगे थे और अचानक दोनों एक साथ झड गए। मम्मी उठी अंकल को चूमा और फिर कपडे पहन कर सो गई। अंकल बोले मैं जा रहा हूँ वो बोली ठीक है चले जाओ। उसके बाद अंकल कपडे पहने बाथरूम गए और करीब 20 मिनट बाद बाथरूम से निकले। तब तक मम्मी सो चुकी थी पंखा तेज चल रहा था। अंकल जैसे बाहर आये बाथरूम से मैं वही खड़ी मिली।

मैं बोली क्या हो रहा था आप दोनों का? अंकल डर गए बोले कहना नहीं इसी से। मैं बोली आ ही पापा को व्हाट्सप्प पर कॉल कर के पूरी बातें बताउंगी। अंकल डर गए। वो तुरंत ही अपने जेब में से 25 दो हजार का नोट गिनकर मुझे दे दिए और बोले चुप रह। तो मैं बोली नहीं इससे काम नहीं चलेगा आपको भी वो सब करना पड़ेगा जो आपने मम्मी के साथ किया है वो खुश हो गए और फिर जेब में हाथ डाले और फिर से 50 हजार निकाल मुझे दे दिए। मैं खुश हो गई। नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर आप ये मेरी चुदाई की कहानी पढ़ रहे हैं।

और फिर मेरे कमरे में आ गए उन्होंने पहले मेरे सारे कपडे उतारे। फिर पुरे बदन को चूमा चूचियां दबाई चुत चाटा और मेरी खूब चुदाई की। शायद मम्मी से भी ज्यादा वाइल्ड तरीके से क्यों की मैं तो जवान हूँ और चूचियां गजब की है चूत भी टाइट नहीं पुरे बदन पर एक भी दाग नहीं नहीं है। ना ज्यादा मोटी हूँ ना ज्यादा पतली चुदने के लिए मेरे से अच्छी लड़की हो ही नहीं सकती। करीब दो घंटे तक मुझे चोदा और फिर वो चले गए। मैं माँ बेटी सुबह की गहरी नींद लेकर करीब 10 बजे उठी।

loading...

Hindi Sex Story

Hindi Sex Stories: Free Hindi Sex Stories and Desi Chudai Ki Kahani, Best and the most popular Indian top site Nonveg Story, Hindi Sexy Story.


Online porn video at mobile phone


चाची को जबरन चोदाAntarvasna.sasur son in-lawमेरी चूत का गैग बैगचुदाई कहानीagar.jbarjast.bara.sal.ki.ladki.ki.chode..to.khoon.niklegaठंडी में चुदाई कहानीSex khani sotele bap ne jm kr choda अन्तर्वासना स्टोरीज बीटा हिंदी mistakeसेक्स कहानी भाईदमदार लड से चुदाई मेरीविधवा बहन को बीवी बनाया फिर चोदा सेक्स शायरीbiwi ka shadi se pahle gangbang hindi storiesmom Ki hot story Antarvasna. Comमाँ नेँ मेरा लण्ड लिया storiesपड़ोसन सेक्स मैने अपनी बीवी को दोस्त चूदाई स्टोरी nonvage sex stopy ma betaचुदवाएगीdostki betika sil toda kahanisex maa thand se bachane ke liye chudi bete seदीदी को देखा चुदते हुऐsasur ka land storiगांड चाटने की कहानियांdidi ko ghar m guma guma k choda.comभांजी को गोद में बिठा के लैंड गण्ड में घुसा दिया स्टोरीmummy and bhan boua ki papa bhi ki chodie boor ki chodie hinde sex storymere pti aur jeth ka lund meri chut m -2 story in hindiSex khani sotele bap ne jm kr choda Bhabhi ke na kahne par bhi chudai ki kahanixxx saxy nonbaj storeचाची की च** में मेरा लौड़ा अंदर तक चला गयागांव में मामी की च**** मामा के सामने की कहानीबुर की कहानीgirl chudi bur tmatrBagiche k jhadiyo me meri chudaipadosan uski sadi me uski hi cudai kahaniगांव में मामी की च**** मामा के सामने की कहानीmami aue bhaje ki train me fuckingमा बेटासास दामाद भाईबहन ओपेन सेकसी बिडीओसंभोग कथा मराठितबायकोला निग्रो झवलाKamukta servant massage hindi sex storyमाँ सेक्स स्टोरी इन70 साल की नानी सेकस कथापति के सामने अनजान मर्द से चुदवा लीgehri Nabhi slim pet sex kahanipapa k draevar na home sax vasana story hindibhaiya ka maine ilaj kiya sex storyमेरे सामने चोदा मेरी माँ कोsexykahani of bro and sister of nonvegantervasna kahaniyaGAY गे स्टोरीchudakd bhanecollegeteachersexstoryxxx saxy nonbaj storeलङ वधवा नी दवाmere pti aur jeth ka lund meri chut m -2 story in hindiनोकरी के लिये माँ को सेक्स स्टोरीSex ki sachchi kahani vidhwa kimast chudai mall dukan me kahaniमम्मी ने बेटी को घर में बियर पिलायाबहिणीचे बोल बघून माजा लंड कडक झाला dost ki bahan ki chudai talab maiआंटी को चोद कर गोद भरीमाँ बेटे की शादी सेक्स कहानीbua sex kahaniyaagar.jbarjast.bara.sal.ki.ladki.ki.chode..to.khoon.niklegamera friend ny porn storyxxx kahani mausi ji ki beti ki moti gand mari desiमैंने गैर औरत को अपना लौड़ा दिखा करबायकोला निग्रो झवलाचुत में कड़क लौड़ा फासामैं खूब चुदाई कई दिनों तकमाँ की चुदाई की कहानी देसी माँ सेक्स स्टोरीशहरों की चुदाई कहानीsexy old age aunty ko nangi krka chudai storynonvagstori hindiभाई बहन सास दमाद ओपेन सेकसी बिडीओchudai k mja 2 -2 bahuo k sath hindi kahaniसभी दोस्तों के साथ मिलकर अपनी सगी बहन को choda