भाई ने चोदा मुझे छत पर हैप्पी दिवाली बोलकर

loading...

“दीदी मुझे गले लगा लो आज दिवाली है, आज मैं हैप्पी दिवाली बोलकर आपको गले लगाना चाहता हु” मुझे कुछ भी समझ नहीं आ रहा था की आखिर मेरा भाई मुझे गले लगाने की बात क्यों कर रहा है, मैं जब से जवान हुई आज मैं 22 साल की हु, मुझे कभी भी इसने गले लगाने की बात नहीं की थी पर कल दिवाली पे इसे क्या हो गया था की मुझे अपनी बाहों में समेटना चाह रहा था. मुझे लगा की आजकल जवान बदल गया है. होस्टल में रहता है और मैं गांव में रहती हु तो हो सकता है की आजकल का ट्रेंड हो. इसलिए मैं रोकी नहीं और गले लगा ली.

loading...

रात के आठ बज रहे थे, निचे पूजा पाठ कर के, मैं भाई बहन छत पर दीपक जलाने आ गए थे, मेरा भाई किशोर मेरे से १ साल छोटा है. दोनों मिल कर दिवाली के लिए दिये जला रहे थे, जब मैं बैठ कर दिये की बत्तियां ठीक कर रही थी, उस समय मेरे चोली के (मैं लहंगा और चोली पहनी थी) ऊपर से मेरी चूचियां मेरे घुटनो से दब रहा था इस वजह से मेरी चुइयाँ चोली से बाहर आ रही थी. मेरी चूचियां ऐसे भी बड़ी बड़ी है और उसपर से मेरी चोली का गला ज्यादा कटा होने की वजह से मेरी आधी चूचियां बाहर आ गई थी. शायद वही देखकर उसका मन ख़राब हो गया था और मुझे पाने का प्रयत्न करने लगा.

वो मेरे गदराये हुए बदन को देखकर अपने आप पे काबू नहीं रख पाया और उसकी साँसे तेज तेज चलने लगी, मैंने पूछा की किशोर क्या हुआ है. तो बोला की दीदी पिछले साल जब मैं दिवाली पे नहीं आ सका था तब मैंने आपको बहूत ही ज्यादा मिस किया, और आज आप बहूत ही सुन्दर लग रही हो, आपसे इतना सुन्दर इस दुनिया में कोई नहीं है. मेरी दीदी जहा जाएगी वह पर खुशियां ही खुशियां होगी. दीदी आज प्लीज मुझे आप गले से लगा लो. मैं अवाक् रह गई. फिर सोची की चलो आजकल तो गले लगाना बड़ा आम बात है इसमें शायद कोई बुराई भी नहीं है. मैंने अपनी बाजु फैला दी, और वो एक आंधी के तरह आया और मेरे सीने से चीपक गया, मेरे शरीर में भी एक नया एहसास हुआ और मैंने भी उसको जकड लिया.

किशोर मेरे पीठ को सहलाते हुए, आई लव यू दीदी, हैप्पी दिवाली कहा मैंने भी उसको विश की, पर उसकी जो पकड़ थी, वो कुछ और आगे बढ़ गई, वो मुझे अपने से समा लेना चाहता था, छत पर उस समय एक ही दीपक जलाई थी, विजली नहीं थी. माँ और पाप निचे थे, उन्होंने आवाज लगाया की बेटा कितना टाइम लगेगा, मेरे भाई बोल दिया की पापा जी अभी आधे घंटे लगेंगे, उन्होंने कहा की ठीक है, मैं और तुम्हारी मम्मी अभी गुप्ता जी के यहाँ से आ रहे है उनका गिफ्ट देके. दोस्तों इतना सुनते ही, मेरा भाई उस दीपक को बुझा दिया, ताकि दूर से किसी को दिखई नहीं दे, और मुझे फिर से जोर से बाहो में भर लिया, वो पानी के टंकी के पास ले गया, वह एक और दिवार था और दूसरे और टंकी, यानि की किसी को भी दिखई नहीं दे सकता था

और वो मुझे अपने और खीचते हुए कहा, दीदी आई रियली लव यू, मैंने कहा किशोर ये सब ठीक नहीं है. दिवाली का विश ऐसा भी नहीं होता है. किशोर बोला हां मुझे पता है ऐसा नहीं होता है पर प्लीज मुझे मत रोको, वो मेरी चूतड़ को सहलाने लगा, दोस्तों आप ये कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पे पढ़ रहे है. मैंने भी अपने आप को रोक नहीं सकी और मैंने भी उसको वासना भरी बाँहों में उसको जकड लिया, वो मेरी होठ को चूसने लगा, उसकी साँसे तेज हो चुकी थी, मैं भी गरम हो रही थी. मैंने भी उसके बाल पकडे और उसके होठ को चूसने लगी. वो मेरी चूचियों को ऊपर से ही दबाने लगा. मैंने पीछे से डोरी खोल दी. ब्लाउज ढीला हो गया, मैंने कहा हाथ नीच डाल लो. उसने मेरे चूच को दबाना शुरू कर दिया, उसके हाथ में मेरी चूचियां नहीं आ रही थी. वो ऊपर से जितना पकड़ पा रहा था वो पकड़ रहा था.

मैंने कहा आई लव यू, किशोर हैप्पी दिवाली, किशोर बोला काश ऐसी दिवाली हमेशा आये. और वो मुझे घुमा दिया, और मेरी गांड पर वो लैंड रगड़ने लगा. मैंने पीछे से उसके सर को पकड़ ली. वो मेरी चूचियों की पीछे से पकड़ लिया और जोर जोर से दबाने लगा. मैं बुरी तरह से वासना में भर गई थी. उसने मेरी लहंगा को निचे से ऊपर कर दिया, मुझे उसने घोड़ी बना दिया. और फिर उसने मेरी पेंटी को थोड़ा सरका दिया, और फिर अपने लंड पर थूक लगा कर, मेरी चूत के ऊपर रखा, पर अँधेरे की वजह से उसको ठीक से दिखाई नहीं दे रहा था उसके उसका धक्का बेकार गया. उसके बाद मैंने उसका लंड पकड़ कर, अपने चूत पे सेट की, और मैंने कहा अब डालो. और उसने एक जोर से धक्का दिया. और उसका पूरा लंड मेरी चूत के अंदर समा गया. अब वो मेरी चूतड़ पे थापड़ मार मार कर अपने लंड को अंदर बाहर करने लगा.

दोस्तों उसका लंड बहूत ही ज्यादा मोटा था इसलिए मेरी चूत काफी टाइट थी. तो दर्द भी हो रहा था. और पर मुझे बहूत मजा आ रहा था. मैंने भी उसको मदद करने लगी. मैंने भी पीछे से धक्के दे रही थी और वो दोनों हाथो से फिर चूचियों को पकड़ लिया और मुझे चोदने लगा. मैं बहूत ही कामुक हो गई थी. मेरे मुह से सिर्फ आह निकल रही थी.

दोस्तों करीब दस मिनट में भी उसने मेरा हालात ख़राब कर दिया, और वो मेरे चूत में ही अपना सारा वीर्य डाल दिया. मैंने भी निढाल हो गई और वो भी निढाल हो गया. फिर उसने मुझे गले लगाया और हैप्पी दिवाली बोला. तभी निचे दरवाजा खुलने की आवाज आई और फिर हम दोनों दीपक जलाने लग गए.

दोस्तों दिन भर तो बस तिरछी नजर से ही काम चला क्यों की आज घर में दिन भर छुट्टी होने की वजह से मेहमान आये था इसलिए कुछ ज्यादा नहीं हो पाया था पर आशा करती हु की आज रात को फिर कुछ ना कुछ होगा. पर जो कल रात को हुआ था बहूत ही सेक्सी था. काश मेरा भाई मुझे ऐसा ही प्यार करता रहे.

loading...

Hindi Sex Story

Hindi Sex Stories: Free Hindi Sex Stories and Desi Chudai Ki Kahani, Best and the most popular Indian top site Nonveg Story, Hindi Sexy Story.


Online porn video at mobile phone


मा बहन कि हिन्दी चुदाई कि कहानियां पैसे के लिये भाई को पटाकर चुद गईहिंदी सेक्स कहानियाँपेहली बार चूत मे लँड़ लियाSex khani sotele bap ne jm kr choda आंटी की मालिश धूप सेक्स कहानीमैडम स्टूडेंट से चुदवायाssdi vali bhabi ki chootpati patni xxx shuagraat shairynonvage sex stopy ma betasexbhabhi story in marathiMa ko daru pila ke chut mara kahani निर्मला मम्मी का चुदाई की कहानीसेक्स कहाणी विधवाकीदीदी ने बुर का भोसड बनवाया मुझसेभाई ने मेरेको चोदमकान मालिक खूब चुदवायाchudakd bhanegher ki maal desi Bahan ki chudaiमामीको चोदने का मौका विडियोमम्मी ने बेटी को घर में बियर पिलायाहिदी सेकसी कहानी गाड मारानोकरी के लिये माँ को सेक्स स्टोरीsexy story party ke ticket pana k leya chodaiमेरी सास sexमैंने अपनी मम्मी को चुदते हुए देखा फूफा से – 2 : सच्ची सेक्स कहानीbiwi ka shadi se pahle gangbang hindi storiesदीदी को होली के दिन चोदा maa teachar studant sex Antarvasnasex hindi storiesमेरी चुत का पानी निकाला तो जानेCooking k bahane erotica Hindi story परिवार में चुदाई कहानीघरमें नोकर ने सबको चोदापापा से सेक्स करती हूं क्या सही हैmamisexy kahanijawani mai chudai bhaijaan seसंभोग कथा मराठितपड़ोसन सेक्सकामुकता sex storiesBagiche k jhadiyo me meri chudaiसास दामद भाई बहन ओपेन सेकसी बिडीओमराठी चुदाई स्टोरीगांव में मामी की च**** मामा के सामने की कहानीApni bivi ke kahne par uski bahen ko ma bnaya hindi storiKhel khel me bhai ne mujhe chod diyaमाँ बेटा हिन्दी सेक्स कहानियाँ कामुकता.comपत्नी को चुदवाकर बनाया वेश्याभाई बहन की सेक्सी कहानी सीलSex khani sotele bap ne jm kr choda गाड चटवाने का मजा हिनदि सेकस कहानिमेरी पहली चुत चुदाईमकान मालिक खूब चुदवायालङ वधवा नी दवा maa+beta+hindicudai+storyगर्लफ्रेंड सेक्सी डॉट कॉमघरमें नोकर ने सबको चोदाएक्स एक्स एक्स वीडियो डॉट कॉम डॉट कॉम पत्नी मिलने की स्टोरीSaadi के बाद दीदी seal. Bhai ne todaदीदी ने बुर का भोसड बनवाया मुझसेVirgin Girls muth marte hue bhai se chudi raat bhr pti smjh krसेक्सी कहानी सास दामादभाई बहन सास दामाद ओपेन सेकसी बिडीओसास दामाद मा बेटे ओपेन सैकसी बिडीओअसशील कथामा बहन कि हिन्दी चुदाई कि कहानियां नामरद.सेकसी कहनीjawani mai chudai bhaijaan seBibi ne jugar lagai chudai ke liye kamuk kahanisammohit bdsm Bhabhiबेटा मुझे चोदोनासेक्स स्टोरी भाभी और पड़ोसीदेवर भाभी सेक्सी कहानियां हिंदी में नॉनवेजननद की चुदाईमैंने अपनी मम्मी को चुदते हुए देखा फूफा से – 2 : सच्ची सेक्स कहानीमामी डॉटकॉम कथा नॉनवेज स्टोरी मम्मी ने बेटी को घर में बियर पिलायाdaily new संभोग कथा in Marathiसेक्सी ससुर सेक्सी बहु के साथ सेक्सी कहानी पढना हे Tichar ki xxx chudai sahiry and kahniरंगीला ससुर सेक्स स्टोरीमां अंकल की चूदाई मेरे सामनेसिस्टर सेक्स स्टोरी हिंदीमा बेटासास दामाद भाईबहन ओपेन सेकसी बिडीओbahan ko lipstick la kardi sexy storiesजेठ जी ने मुझे और जेठानी को मेरे पति ने चोदामुझे चोद रहा था और मैं सोने का नाटक कर रही थीTichar ki xxx chudai sahiry and kahniसेक्स आन्टी पुस्तक गोश्टी