Father Daughter Sex Story – पापा ने कल पूरी रात मुझे चोदा

बाप बेटी सेक्स स्टोरी
Sex Kahani, Hot Sexy Story, XXX Story, Adult Story, रोजाना पढ़िए हिंदी में हॉट चुदाई की कहानियां
loading...

Father Daughter Sex Story in Hindi, बाप बेटी सेक्स स्टोरी, बेटी की चुदाई, : दोस्तों आज मैं आपको अपनी एक सच्ची कहानी सुनाने जा रही हूँ। मैं नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम की फैन हूँ। मैं रोजाना इस वेबसाइट की कहानियां पढ़ती हूँ इसलिए आज मुझे भी आपको अपनी कहानी बताने जा रही हूँ।

loading...

मेरा नाम सखी है। मैं अठारह साल की हूँ। मैं ग्रेटर नॉएडा में रहती हूँ। मैं लखनऊ की रहने वाली हूँ। मेरी माँ जो की अभी छह महीने पहले ही दूसरी शादी की है। मेरे पापा जो पहले वाले थे वो हम माँ बेटी को छोड़कर दूसरी शादी कर लिए हैं।

इसलिए माँ भी दूसरी शादी कर ली है। माँ की उम्र अभी छत्तीस साल है वो हॉट और सेक्सी महिला है। वो काफी खुले विचार की है इसलिए मुझे भी किसी चीज के लिए मना नहीं करती हैं।

दोस्तों अब बात आती है पापा की तो मैं क्या कहूं आपको मेरे पापा मेरे से बस दस साल बड़े है और मम्मी से आठ साल छोटे यानी मेरी मम्मी अपने से आठ साल छोटे लड़के से शादी की है। यानी की मम्मी भी खूब मजे ले रही है जवान लंड से और मुझे भी एक लंड मिल गया घर में ही।

मेरी माँ एयरलाइन्स में काम करती है वो घर से बाहर कई बार एक सप्ताह के लिए रहती है। पापा का यानी रमेश जी अब मैं रमेश जी ही बोलूंगी।

रमेश जी का इम्पोर्ट एक्सपोर्ट का काम है। तो कई बार वो काफी दिन इंडिया से बाहर रहते है और कई बार वो घर पर ही रहते है। जब वो घर पर रहते हैं मुझे और मम्मी का बहोत ख्याल रखते हैं।

जब भी घर पर रहते हम दोनों के लिए खाना तक बनाते शॉपिंग कराते। कभी वो मम्मी को घुमाने ले जाते कभी मुझे। सच तो ये है दोस्तों मैं भी आकर्षित होने लगी थी।

कल सुबह की बात है। वो मुझे तैयार होने के लिए बोले वो मम्मी को एयरपोर्ट छोडने जाने वाले थे तो बोले सखी तुम भी तैयार हो जाओ। मम्मी और मैं दोनों तैयार हो गए वो अपनी स्कोडा कार निकाले क्यों की मम्मी को भी अपनी कार है।

मम्मी को एयरपोर्ट छोड़ दिए और फिर हम दोनों दिल्ली के एक बड़े होते में खाना खाये। तो मैं बोली क्या मस्त होटल है ना। तो वो बोले एक काम करते है। मम्मी तो सात दिन में आएगी इस होटल में कमरा लेते है एक दिन के लिए और तुम खूब एन्जॉय करना।

मैं बोली ये तो बहुत अच्छा होगा और फिर होटल में तुरंत ही चेकइन कर गए। बड़ा सा कमरा मस्त बेड था जाते ही मैं उछल कर बेड पर चढ़ गई। और मैं रमेश जी को गले लगा ली और चूम ली।

दोस्तों मैं उनके गाल पर चूमि पर होठ को चूमने लगे। मैं शांत हो गई। मैं उनको चाहती तो थी पर एक बात लगा था वो मेरे नहीं मेरी माँ के पति है। इसलिए मैं दुरी बनाती थी। पर आज ये दूरियां मिट गई थी।

मैं अपना होशो हवास खो दी। और मैं भी उनको चूमने लगी धीरे धीरे वो मेरी चूचियां दबाने लगे. वो मेरे कपडे उतारने लगे और मैं उनको चूमने लगे। हम दोनों ही नंगे हो गए।

मैं बेड पर लेट गई वो पहले मेरी चूचियों से खेलने लगे और फिर वो मेरी चूत को चाटने लगे। मैं आह आह आह की आवाज निकालने लगी। मैं अंगड़ाइयां लेने लगी। सिसकारियां निकालने लगी.

दोस्तों मेरे रोम रोम सिहर रहे थे क्यों की वो मेरी चूत चाट रहे थे। मैं खुद ही उनके छाती के बाल को सहला रही थी। वो मेरी गांड में ऊँगली डालने लगे। मैं कुछ नहीं बोली। वो अपनी ऊँगली में थूक लगाए और मेरी गांड में ऊँगली घुसा दिए।

मैं बेचने हो गई मेरी चूत गरम हो गई थी। वो मुझे छेड़े ही जा रहे थे। मैं बोली बस करो अब पापा जी। वो बोले जब हम दोनों साथ रहें तो रम मुझे मेरे नाम से ही पुकारो।

मैं बोली ठीक है मेरी जान मेरी जानू अब मुझे चोद दो। मैं प्यासी हूँ।

उन्होंने अपना लौड़ा मेरी चूत पर लगाया और जोर से तीन चार बार कोशिश करने के बाद पेल दिया। अब मुझे जन्नत दिखाने लगे। वो जोर जोर से चोदने लगे और गांड में ऊँगली करने लगे।

मैं आह आह कर रही थी। वो मेरी चूचियों को मसलते हुए चोदे जा रहे थे। कभी वो ऊपर मैं, कभी साइड से कभी ऊपर से कभी निचे से कभी खड़े होकर।

पूरी रात करीब आठ बार वो झड़े और मैं भी शांत हुई। पर दारु और विआग्रा का कमाल ने तो उन्हें घोडा बना दिया।

पूरी रात जन्नत का मजा ली हूँ दोस्तों। दूसरी कहाँ जल्द ही नॉनवेज स्टोरी पर लिखने वाली हूँ।

मेरा सौतेला बाप

Bap Beti Sex
Sex Kahani, Hot Sexy Story, XXX Story, Adult Story, रोजाना पढ़िए हिंदी में हॉट चुदाई की कहानियां
loading...

बाप बेटी सेक्स, बेटी की चुदाई, सौतेला बाप, सौतेली बेटी सेक्स, बेटी बाप सेक्स कहानी, Father Daughter Sex Story, Beti ki chudai, Daughter Sex Story in Hindi,

मेरा नाम निहारिका है। मैं अठारह साल की हूँ। आज मैं आपको अपनी एक सच्ची सेक्स कहानी सुनाने जा रही हूँ। इस कहानी में मैं आपको ये बता रही हूँ। की कैसे मेरा सौतेला बाप मुझे सेक्स करने से मनाया और मैं अब मैं खुद भी दीवानी हो गई हूँ। शुरुआत में थोड़ा लगा था मुझे की ये रिश्ता ठीक नहीं है पर अब ऐसा बिलकुल भी नहीं लगता इसमें कुछ गलत है और आज खुश हूँ मैं। अब मैं अपनी सेक्स कहानी पर आती हूँ।

मेरी माँ ज्योति जो की अभी 36 साल की है। अपनी जवानी के दिनों में खूब मजे की थी क्यों की वो मॉडर्न विचार की महिला है। शुरू से ही वो ऐसे थी की किसी का भी मन उनपर डोल जाये पर एक वक्त ऐसा आता है की पुरुष बदल जाता है उसे सती सावित्री ही चाहिए। शुरुआत में किसी भी पुरुष को सनी लिओनी जैसे चाहिए पर जब आधा उम्र बीतता है तो उन्हें लगता है एक अच्छी महिला चाहिए। अगर महिला खूब जिस्म लुटाये, सेक्सी अंदाज करें, सेक्सी बने पर ये हमेशा के लिए नहीं रहता है। वही हुआ मेरी माँ के साथ।

पिछले साल ही मेरी माँ का ब्रेकअप हो गया। उन्होंने मेरे पिता से तलाक ले ली। उसके बाद वो फिर से शादी की है जो अपने से आठ साल छोटे हैं। मेरी माँ अभी भी सेक्सी और जवान है। यानी की अभी मस्त माल है मॉडर्न है। उन्हें पब जाना, घूमने जाना, सेक्सी ड्रेस पहनना बहुत ही अच्छा लगता है। अपने फिगर को वो काफी मैंटेन कर के रखा है। उन्होंने मुझे भी कभी भी किसी चीज के लिए मना नहीं की हैं। मैं मॉडलिंग में हाथ आजमाना चाह रही हूँ। और मैं टीवी एड् में आना चाहती हूँ। अभी एक एड् आया भी है कंडोम का पर वो मैं करना नहीं चाहती। क्यों की वैसा फील नहीं दे पा रही हूँ।

मैं और पापा मम्मी दोनों ग्रेटर नॉएडा में रहते हैं। मम्मी एक अमेरिकन कंपनी में जॉब कर ली है वो वो रात में ऑफिस जाती है। और पापा बैंक में मैनेजर हैं जो की शाम को घर आ जाते हैं। दोस्तों उन दोनों की लाइफ सही नहीं है क्यों की जब एक आती है तो दुसरा ऑफिस चला जाता है बस रविवार को ही हम लोग साथ रहते हैं। पर

मैं घर में काफी सेक्सी कपडे पहनती हूँ ये स्टाइल मैंने अपनी माँ से ही सीखा है। और रहती भी हूँ बन ठन कर जितने भी पुरुष है उन सबकी निगाहें मेरे ऊपर रहती है चाहे वो बूढ़ा हो या जवान हो। इसका भी मैं खूब इंजॉय करती हूँ। कोई मुझे घूरे मेरी चूचियों को निहारे मेरी गांड को निहारे मेरे होठ को देखे ये सब मुझे बहुत अच्छा लगता है।

एक दिन की बात है। माँ शाम को जॉब के लिए चली गई थी। मेरे पापा जिनका नाम संजय है वो घर पर थे। रात के करीब आठ बज रहे थे। मैं सो गई थी क्यों की उस दिन मैं ज्यादा थकी हुई थी। वो मुझे खाना खाने के लिए उठाने आये थे। उस दिन मुझे बहुत ही ज्यादा प्यार से उठा रहे थे शायद वो पहला दिन था जब इतने प्यार से उठा रहे थे। पर वो प्यार कुछ और ही था। वो मेरी चूचियों पर दवाब देकर उठा रहे थे। जब मैं नहीं उठी तब वो मेरी चूचियों को बारी बार से दबा रहे थे और उठा रहे थे। मैं आँख बंद कर ली थी और मजे लेने लगी थी क्यों की कुछ देर पहले ही मैं नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पढ़ कर सोइ थी तो काफी सेक्सी और कामुक हो चुकी थी। इसलिए ये सब अच्छा लग रहा था पर मन ही मन ये भी सोच रही थी की ये सब गलत है क्यों की मेरा और इनका रिश्ता बाप बेटी का था भले मैं इनकी असली बेटी नहीं थी।

जब वो मेरी चूचियों को सहला रहे थे, मेरे होठ को छू रहे थे, मेरे गाल पर उँगलियाँ फिरा रहे थे। मेरे अंदर आग लग रही थी। मुझे ये सब अच्छा लग रहा था मैं कामुक होने लगी थी। मेरे बदन में आग लगने लगी थी। मैं ना सोचकर भी सब कुछ सौंप देना चाहती थी। पर क्या करें कहा से शुरू करें ये समझ नहीं आ रहा था। मैं बोली पापा। …….. प्लीज सोने सोने दो ना प्लीज। ………..

पापा कहने लगे बेटा खाना खा लो, और वो मेरे पास बैठ गए और मेरी एक बूब्स पर अपना हाथ रख दिए। मैं भी उनका हाथ नहीं हटाई और मैं अपना हाथ उनके हाथ के ऊपर रख दी और उनको देखने लगी। वो अब मेरी चूची को दबाने लगे और मुझे गौर से देखने लगे। मैं अभी भी अपना हाथ उनके हाथ पर रखी हुई थी और मैं अब धीरे धीरे दबाब देने लगी वो समझ गए लड़की चुदने वाली है। उसके बाद दोस्तों क्या बताऊँ। मेरे होठ खुद व् खुद ही दांतो के अंदर आ गए और काटने लगी मैं। मेरे पापा ने अपनी ऊँगली मेरे होठ पर रखा और फील किया और लम्बी सांस ली और फिर झुककर मेरे होठ को चूसने लगे।

मैं तो पहले से ही वासना में भर गई थी। मैं उनके सिर को पकड़कर किश करने लगी ऐसा लग रहा था इमरान हासमी चूस रहा हो होठ और मैं भी वाइल्ड होकर उनके होठ को चूसने लगी। उन्होंने अपना एक हाथ मेरे बूब पर रखा और होठ चूसने लगे। तभी मैं बोली की मम्मी को पता लग गया तो ? तो वो बोले जब हमदोनो में से कोई नहीं कहेगा तो उसको कैसे पता चलेगा ? और फिर दोनों एक दूसरे को चूमने लगे। अब वो मेरे ऊपर चढ़ गए और मेरे दोनों हाथो को पकड़ लिया और फिर मेरे होठ गाल गर्दन कंधे बूब्स सब पर किश करने लगे.

मैं आह आह आह करते हुए अपना पैर फैला दी वो अब मेरे बिच में आ गया और फिर उन्होंने मेरा टॉप उतार दिया ब्रा खोल दिया मैं मुँह में ऊँगली देकर ये सब देख रही थी और फिर उन्होंने मेरी पेंट उतारने लगे तो मैं पकड़ ली पेंट को और मुस्कुराने लगी। वो बोले दे ना प्लीज। मैं तुम्हे बहुत कुछ दूंगा यहाँ तक की ढेर सारा पॉकेट मनी और बहुत कुछ।

उसके बाद मैं खुद भी हेल्प कर दी और उन्होंने मेरी पेंटी तक उतार दिया। वो मेरे चुत को चाटने लगे। वो मेरे बूब्स को पीने लगे। मैं अंगड़ाइयां ले रही थी और मजे ले रही थी। मेरे मुँह से सिसकारिआं निकल रही थी और वो मेरे पुरे बदन को चूस रहे थे उसके बाद मैं अपने पैर का फंदा बन्दा लिए और उनको लपेट ली। वो मेरी चूत में अब ऊँगली डालने लगे। मैं आह आह आह करने लगी। फिर उन्होंने अपना लौड़ा निकाला और मेरी हाथ में पकड़ा दिया।

मैं उनके लंड को चूसने लगी। मजे लेने लगी वो सी सी सी सी आ आ आ आ की आवाज निकालने लगी। मैं आइसक्रीम की तरह चूस रही थी और अंदर बाहर कर रही थी। उसके बाद हम दोनों 69 को पोजीशन में आ गए वो मेरी चूत चाट रहे थे और मैं उनका लौड़ा गजब का माहौल बन गया था। उसके बाद मैं उनके ऊपर आ गई और फिर उनका लौड़ा पकड़ कर अपने चूत में ले ली।

अब निचे से वो धक्का दे रहे थे और मैं उछल रही थी सटा सट उनका लौड़ा मेरी चूत में जा रहा था। हम दोनों एक दूसरे को खुश कर रहे थे। वो मेरी चूचियों को दबाते हुए निप्पल को दबाते हुए वो चोदे जा रहे थे।

उसके बाद मैं निचे हो गई और वो ऊपर मेरे पैरों को अपने कंधे पर रख लिए और फिर जोर जोर से मेरी चूत में घुसाने लगे। कमरे में हम दोनों ही मोअन कर रहे थे। और एक दूसरे को गाली देते हुए डर्टी टॉक कर रहे थे। कभी वो रगड़ते कभी धक्के देते ओह्ह्ह्ह क्या बताऊँ दोस्तों मैं पानी पानी हो गई थी।

उसके बाद करीब दस मिनट बाद वो झड़ गए। और मैं भी शांत हो गई।

दोस्तों उस दिन के बाद से ही हम दोनों एक ही बिस्तर में सोते हैं। बस शनिवार और रविवार को छोड़कर। अब मेरे पापा संडे और सैटरडे को मम्मी को चुदाई करते है वो वीडियो मुझे दिखाते है। अब मैं माँ से भी काफी कुछ सिख गई हूँ। मेरी माँ भी खूब हॉट लगती है बेड में। आशा करती हूँ आपको मेरी ये कहानी अच्छी लगी होगी। दूसरी कहानी जल्द ही नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर लिखूंगी तब तक के लिए मेरे प्यारे दोस्तों आपका धन्यवाद।

सौतेले बाप ने सोते हुआ चोदा मुझे जब मम्मी घर पर नहीं थी

वर्जिन सेक्स स्टोरी
Sex Kahani, Hot Sexy Story, XXX Story, Adult Story, रोजाना पढ़िए हिंदी में हॉट चुदाई की कहानियां
loading...

बाप बेटी सेक्स, सौतेला पिता,अकेली लड़की सेक्स, father daughter sex, baap beti sex, Sautela baap, Ghar ki chudai, rishton me chudai Hindi Story

मेरा नाम ज्योति है मेरी उम्र अठारह साल है। मैं दिल्ली में रहती हूँ। आज मैं आपको अपनी एक सेक्स कहानी आपलोगों के साथ शेयर कर रही हूँ। ये कहानी कल की ही है कैसे मुझे मेरे सौतेले पिता ने चुदाई की मेरे साथ सेक्स किया जब मम्मी घर पर नहीं थी।

मेरी माँ बहुत ही चुड़क्कड़ किस्म की औरत है तभी उसने एक ठरकी आदमी से शादी कर ली। मेरे पापा को छोड़ कर, क्यों की मेरी माँ को लंड पसंद है। मैंने कभी भी साथ नहीं दिया था माँ का की आप पापा को छोड़ दो पर उन्होंने अपने साथ जवानी में जिसके साथ रंगरेलियां मनाई थी उसी के साथ दुबारा शादी कर ली।

मैं मजबूर थी मुझे भी उनके साथ ही आना था और मैं आ गई अपने दूसरे पापा के पास। मैं भी कम चुड़क्कड़ नहीं हूँ पहले ऐसी नहीं थी पर जब से यहाँ आई तब से भी रोजाना पलंग तोड़ आवाज और आह आह आह और चोदो को आवाज से मेरी चूत भी गीली हो जाती थी। रोजाना ऊँगली डाल कर ही काम चलाती थी और चूचियां अपने हाथ से ही मसल मसल कर काम चलाती थी। कई बार मैंने अपने माँ को सेक्स करते हुए देखि, जब से नए पापा के पास आई तब से मेरी माँ की जवानी और भी सेक्सी हो गई होगी भी क्यों नहीं शायद मेरे असली पापा चोद नहीं पाते होंगे तभी तो छोड़ कर दूसरी शादी कर ली ताकि चूत की गर्मी शांत हो सके।

अब सीधे अपनी चुदाई पर आती हूँ। मैं नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम की बहुत बड़ी फैन हूँ , रोजाना रात को कहानी पढ़ कर ही सोती हूँ। और कहानी पढ़ते पढ़ते अपनी चूचियां मसलती और चूत में ऊँगली करती, और कहानी भी ऐसी होती है इस वेबसाइट पर की चाहते औरत हो या मर्द लड़की हो या लड़की बिना मूठ मारे या ऊँगली किये रह नहीं सकता। मैं भी रोजाना यही करती थी।

एक दिन की बात है मेरी माँ नानी को देखने गई थी क्यों की नानी का तबियत ख़राब हो गया था। मैं और मेरे पापा दोनों घर पर थे। रात को वो रोजाना ड्रिंक करते हैं। उस दिन मैं नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर कहानियां पढ़कर ऊँगली की थी और फिर बिना कपडे के ही सो गई थी पर मेरे से एक गलती हो गई दरवाजा लगाना भूल गई थी। रात को करीब 11 बजे मेरे पापा कमरे में आये मैं बेड पर नंगी ही थी। किसी का भी मन खराब हो सकता है। जब मेरी नींद खुली तो देखि मेरे पापा मेरी चूचियां सहला रहे थे। मैं जाग गई थी पर सोने का नाटक करने लगी। क्यों की मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था मेरे पुरे शरीर में सिहरन हो रही थी. धीरे धीरे वो मेरी चूत को भी सहलाने लगे। मैं पागल हो रही थी। तन बदन में आग लग चुकी थी।

उसके बाद वो मेरे बगल में लेट गए मेरी धड़कन तेज हो गई थी, गरम गरम साँसे निकल रही थी शायद उनको पता चल गया थी की मैं जाग गई हूँ। चुप मतलब हाँ शायद वो समझ गए थे। उन्होंने मेरे चूचियों को पीना शुरू कर दिया मेरे अंदर बिजली दौड़ रही थी। फिर वो मेरे गुलाबी होठ को चूसने लगे, धीरे धीरे मेरी चूत में ऊँगली देने लगे। करीब वो 15 मिनट तक ये करते रहे मैं अंदर से पागल हो गई थी। गुस्सा बहुत आ रहा था पर मैं जगती कैसे, गुस्सा इसलिए की मेरी तड़पती जवानी को शांत करने की जरुरत थी और वो सिर्फ सहला रहे थे मुझे तो लौड़ा अपने चूत में चाहिए था।

तभी ऐसा महसूस हुआ की वो अपने लौड़े को निकाल कर मेरे चूत पर लगा रहे थे। मैं सोची अगर आँखे बंद रखूंगी तो मजे नहीं ले पाऊँगी इसलिए आँखे खोल दी। और कुछ बोलना था तो बोल दी “पापा क्या कर रहे हो ?” मम्मी को बताउंगी। वो डर गए, वो बोले मत बताना ज्योति मैं तुम्हे बहुत खुश रखूँगा तुम जो मांगेगी वही दूंगा। मुझे लगा चलो सही हुआ मेरी वासना की भूख भी शांत हो रही थी और खर्चे भी अब अलग से मिलेंगे और क्या चाहिए।

मैंने कहा ठीक पर ये रोजाना नहीं चलेगा बस आज भर, वो बोले ठीक है। फिर क्या था ग्रीन सिग्नल मिला चुका था। वो मेरी चूत में लौड़ा सेट कर के अंदर घुसेड़ दिए। दोस्तों मेरी तो लम्बी आवाज निकली आह आह आह आह उफ़ उफ़ ,मैं अपने हाथों से अपनी चूचियों को दबाने लगी और दांतो से अपने होठ को दबा दी। अपने बाल खोल दी , और पापा को हेल्प करने लगी , दोनों ने लिप लॉक कर दिया एक दूसरे के मुँह में जीभ डालने लगे और होठ चूसने लगे.

धीरे धीरे मेरी चूत की गर्मी बढ़ रही थी। चूत से पानी निकलना शुरू हो गया था वो लौड़े को अंदर बाहर निकाल रहे थे झटके दे दे कर। उनके लौड़े पर सफ़ेद रंग का क्रीम लगा रहा था, चुदाई अपनी चरमसीमा पर था। आवाजे पुरे कमरे में गूंज रही थी. तभी वो 69 की पोजीशन में आ गए उनका लौड़ा मेरे मुँह में और मेरी चूत उनके मुह् में दोनों एक दूसरे के चूत को लंड को चाट रहे थे। पापा मेरे गांड में अपना जीभ डाल रहे थे और कह रहे थे गजब की है तू, आज तूने धन्य कर दिया। ज़िंदगी की पूरी ख़ुशी दे दी मझे।

दोस्तों फिर मैं ऊपर आ गई उनके लंड को पकड़ कर अपने चूत में सेट की और बैठ गई लौड़ा मेरे अंदर तक चला गया और मेरे में समा गया, फिर धीरे धीरे ऊपर उठ उठ कर बैठने लगी ओह्ह्ह मजा आ रहा था वो मेरी चूचियों को मसल रहे थे और निचे से धक्का दे रहे थे। मेरी रोम रोम में बिजली दौड़ रही थी ऐसा लग रहा था मैं जन्नत में हूँ।

दोस्तों इस तरह से वो मुझे एक घंटे तक चोदे, हम दोनों एक साथ झड़ गए, पापा अपने कमरे में गए वह से 20 हजार रूपये लाकर दिए बोले रख ले जो भी खरीदने का होगा खरीद लेना। फिर उन्होंने एक सेक्स की टेबलेट खाई और फिर मेरे ही पास लेट गए चूचियां सहलाने लगे किश करने लगे। दोस्तों रात में मुझे तीन बार चोदा मेरी चूत सूज गई थी। चूचियां पर दांत के निशान हो गए थे पेट पर भी दांत के निशान थे। यानी मेरे पुरे शरीर पर लव बाईट था।

सच पूछिए तो मुझे बहुत अच्छा लगा खूब चुदी अपने पापा से मजा आ गया थे दूसरे दिन ही मम्मी आ गई। पर पापा बोले रोजाना नहीं कभी कभी जब मम्मी नहीं होगी तब चुदाई करेंगे मुझे भी ये आईडिया अच्छा लगा.

अगर आप दिल्ली नोएडा के आसपास है या दूर भी है पर आ सकते हैं मुझे चोदने के लिए तो कमेंट करें। आपको खूब चुदाई का मौक़ा दूंगी। मुझे लौड़ा बहुत पसंद है।

आपको ये मेरी सच्ची कहानी कैसी लगी प्लीज बताएं। तब तक के लिए आपका शुक्रिया, आपकी ज्योति। नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर

loading...

Online porn video at mobile phone


Cooking k bahane erotica Hindi story सेक्स कहाणी विधवाकीपापा के लड से चिपकी काहानीपारिवारिक सेक्स स्टोरीgarmi ke din mom sun xxx hindi kahaniबहन की चुदाई कहानीपापा से बचकर मम्मी की चुदाई सेक्स कहानियासेक्स कहानि दोस्त कि बिबि ने चोदनेपर मजबुर कियादेवर का लंड चूसकर चुदना हैजिस्म की आग सेक्स स्टोरीदोस्त पती चुदाई कहाणीमेरी कसी हुई चुतदेवर ने देवरानी के साथ चोदामैँ भरी जवानी मेँ चुद गईdidi ko ghar m guma guma k choda.comnonweg sex गोष्टमला झवला कथापारिवारिक सेक्स स्टोरीहिंदी सेक्स स्टोरी कार में चुदाई बहनmarahisexstories.cc maa chudaimast chudai mall dukan me kahaniwww nonvegstory com apni aurat ko banaya mohalle ki sabse badi randiनिर्मला मम्मी का चुदाई की कहानीचाची की च** में मेरा लौड़ा अंदर तक चला गयाननद की चुदाईyou taba sas ne damad ka land chusiमा बेटासास दामाद भाईबहन ओपेन सेकसी बिडीओchacha bhatiji antarvasnachachari badi behan ki chut ki seal todipadoshan aunty ki gand mari storeeघरमें नोकर ने सबको चोदाबहन भाईsex 18 सालbahan ko lipstick la kardi sexy storiessexy story party ke ticket pana k leya chodaiबुढ़ापे सेक्स कथा मराठी बायकोचोद चोदकरSexकहानी hindKhel khel me bhai ne mujhe chod diyaNonvessexstory.comमाँ बेटा हिन्दी सेक्स कहानियाँ कामुकता.comनोकरी के लिये माँ को सेक्स स्टोरीपापा से बचकर मम्मी की चुदाई सेक्स कहानियाAnterwasna.com ma ke gand me hiroti hindi sex storypatli a sisterki chudaiमाँ बहन को भाई के लँड का सुख हिँदी कहानियाँ.नैटअसशील कथादीदी को होली के दिन चोदा सुहागरात.nonvg.sotryएक्स एक्स एक्स वीडियो डॉट कॉम डॉट कॉम पत्नी मिलने की स्टोरीदूध ऑफ़ भाभी विडो इन सेक्स स्टोरीजcollegeteachersexstoryचुदाई का चस्कामेरी चूत का गैग बैगनशे मे परी की गांड ठोकी storieshende auntey sexkahane.comबीबी बनी दिल्ली की रन्डी सेक्सी कहानीthakuro ki suhagrat sex storiesSixy shiway Marathi zavazavi kathadost ki bahn ki chudai barish maiwidhwa ki chudai aur bacha hua sex storyHindi me tirchi najar wali bhabhi ki x vidioesमराठी चुदाई स्टोरीछोटी बहन की चुदाई पत्नी कीsagrat mom sexkhaniचोद चोदकरbibi saas aur saali ke sath honeymoon kiyaमाँ की चुदाई की कहानी देसी माँ सेक्स स्टोरीआंटी को चोद कर गोद भरीमेरे सामने चोदा मेरी माँ कोSex story चुदाई देखी bahankhud dabati h apna figer pornsammohit bdsm Bhabhikarvachauth per sex storiesहिदी सेकसी कहानिना चोदकड विधवा माँ नये नये लडो से चुदती थी फिर अपने बेटे से चुदीदेसी विलेज सेक्स स्टोरीज मेरी बहन की गदरायी हुई जवानीपति के सामने अनजान मर्द से चुदवा ली